कौन कहता है हम उसके बिना

कौन कहता है हम उसके बिना मर जायेंगे, हम तो दरिया है
समंदर में उतर जायेंगे, वो तरस जायेंगे प्यार की एक बून्द के लिए
हम तो बादल है प्यार के किसी और पर बरस जायेंगे…!!!

मौसम मे जुदाई के गर

मौसम मे जुदाई के गर तेरा दीदार हो जाये,
तो मेरा दिल भी सनम तेरा कर्जदार हो जाये,
तुम जो छोङ कर गये हो हमको तन्हां,
है बद्दुवा मेरी की तुम को भी प्यार हो जाये…!!!

सुकून ऐ दिल के लिए कभी

सुकून ऐ दिल के लिए कभी हाल ही पूँछ लिया करो,
मालूम तो हमें भी है कि हम आपके अब कुछ नहीं लगते…!!!

Bewafa Dard Bhari 2 Line Shayari in Hindi

मुझसे “नफरत” तभी करना जब आप मेरे बारे
मे “सबकुछ” जानते हो तब नहीं जब किसी से
“कुछ” सुना हो…!!!
———————————–

ज़रा सी बात पे ना छोड़ना किसी का दामन
उम्रें बीत जाती हैं दिल का रिश्ता बनाने में

————————————

मैं कई अपनों से वाक़िफ़ हूँ,
जो पत्थर के बने है..!!!

————————————

इश्क का होना भी लाजमी है शायरी के लिये,
कलम लिखती तो दफ्तर का बाबू भी ग़ालिब होता…!!!

————————————

वक़्त के भी अजीब किस्से है, किसी का कटता नही
और किसी के पास होता नही…!!!

————————————

यूँ तो जिंदगी तेरे सफर से शिकायतें बहुत थी,
दर्द जब दर्ज कराने पहुंचे तो कतारें बहुत थी…!!!

आज हम उनको

आज हम उनको “बेवफा” बताकर आए है;
उनके खतो को पानी में “बहाकर” आए है;
कोई निकाल न ले उन्हें “पानी से”;
इस लिए पानी में भी “आग लगा” कर आए है।